श्रमिक फिर हुए सम्मानित आक्रोशित ग्रामीणों ने विधायक पर लगाए गंभीर आरोप

By vindhyanews18.com Fri, Apr 2nd 2021 जनसंपर्क 492 Views    


राजकुमार तिवारी--

मझौली:--एकता परिषद के संयोजन में मझौली जनपद के ग्राम पंचायत नेबूहा अंतर्गत ग्राम कोठार में बरसों से उपेक्षा का दंश झेल रहे जील तालाब का गहरीकरण एवं मेड बंधान कर ग्रामीण उसे नया जीवन दे रहे हैं जिसके तहत तालाब की साफ सफाई का कार्य भी किया गया है। यह कार्य श्रम शक्ति अभियान के तहत एक पखवाड़ा पूर्व शुरू किया गया था जिसका दूसरा चरण गत 17 मार्च से 21 मार्च तक किया गया था।इस पुनीत कार्य में संलग्न श्रमिकों को गुरुवार 1 अप्रैल को समारोह पूर्वक किट भेंट कर सम्मानित किया गया जिसके मुख्य अतिथि क्षेत्रीय विधायक रहे।वहीं इस अवसर पर एकता परिषद जिला सीधी की संयोजक सरोज सिंह ने समारोह के मुख्य अतिथि विधायक की उपस्थिति में जहां उनका एक ओर स्वागत किया गया वहीं दूसरी तरफ खंड प्रशासन के द्वारा लगातार आदिवासियों के साथ किए जा रहे दमनकारी नीति की जमकर आलोचना की।वहीं स्थानीय समस्याओं को भी अवगत कराया गया।
ग्रामीणों ने बताया कि एक पखवाड़े के भीतर आदिवासी जनजाति में अति पिछड़े बैगा जनजाति के परिवारों को बेघर करने की यह दूसरी बड़ी कार्यवाही नेबूहा के दुर्जन टोला में की गई है जिसको लेकर जहां मंच से विरोध जताया गया वहीं मौके से ग्रामीणों द्वारा भी विरोध जताया गया जिसमें दिव्यांग जितेंद्र सिंह पिता रणदंमन सिंह गोंड़ जो दोनों पैरों से विकलांग है एवं बैशाखी के सहारे मौके पर पहुंच कर विरोध जताया जिन्होंने बताया तीन पीढ़ी पूर्व से जिस जमीन में उसके पूर्वज और वह खेती-कास्त करते हुए आबाद हैं उसी घर में किराना की छोटी सी दुकान अपने रख कर अपने परिवार का भरण पोषण करता था जिसे पुलिस बल के सहयोग से प्रशासन द्वारा उसे व उसके पत्नी व छोटे बच्चों को मारपीट एवं घसीट कर बाहर कर जेसीबी से घर गिरा दिया गया है और छोटेलाल पिता नंदानी बैगा का भी घर गिरा दिया गया है।
ध्यान रहे कि ग्राम पंचायत नेबूहा के एक मोहल्ला दुर्जन टोला में जहां आदिवासियों के आशियाना को प्रशासन द्वारा उजाड़ा गया वहीं उसी ग्राम पंचायत के दूसरे मोहल्ला कोठार टोला में एकता परिषद के द्वारा कार्यक्रम आयोजित किया गया था जिसमें मुख्य अतिथि की आसंदी से जैसे ही क्षेत्रीय विधायक अपना उद्बोधन शुरू किए जहां पूर्व से ही आक्रोशित ग्रामीण बैठे थे जब दुर्जन टोला का पूरा आदिवासी समूह जैसे ही कार्यक्रम में पहुंचा वैसे ही ग्रामीणों का आक्रोश फूट पड़ा और सभी ने विधायक पर ही गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि हम लोगों का आशियाना उजाड़ने में विधायक खुद जिम्मेदार हैं और उन्हीं के इसारा पर प्रशासन द्वारा हम लोगों के साथ दमनकारी कार्यवाही करते हुए घर उजाड़ कर बेघर किया गया है क्योंकि घटना के एक दिन पूर्व पूरे प्रशासनिक अमला के साथ विधायक घटनास्थल का दौरा किए थे और उनके द्वारा आश्वासन दिया गया था कि किसी का भी घर नहीं उजाड़ा जाएगा लेकिन वहां से लौटने के बाद लगभग 2 घंटे तक उपखंड अधिकारी के पास विधायक का गुफ्तगू कर प्लानिंग बनाना और दूसरे दिन वही प्रशासनिक अमला आकर घर गिरा देता है ऐसे में ग्रामीणों का सीधा आरोप विधायक पर ही था।ग्रामीणों की माने तो देश और प्रदेश में उनके पार्टी की सरकार है और अगर उनका इशारा ना होता तो प्रशासन में इस तरह दमनकारी कार्यवाही करने का हौसला नहीं होता इतना ही नहीं ग्रामीणों का यह भी आरोप है कि जिस उद्योगपति का प्रोजेक्ट यहाँ लगना है उसका मैनेजर यहाँ के स्थानीय भाजपा नेता का रिश्तेदार है और उसी के इशारे पर विधायक प्रशासन के ऊपर दबाव बनाकर कार्यवाही करवाएं हैं समय आने पर इन सब को बेनकाब किया जाएगा।

कांग्रेसियों की चुप्पी पर भी सवाल? अगर वहां के ग्रामीण चीख-चीख कर यह आरोप लगा रहे हैं कि क्षेत्रीय विधायक के इशारे पर गरीबों का आशियाना उजाड़ा गया है ऐसे में क्षेत्र के कांग्रेसी चुप्पी साधे बैठे हुए हैं इसलिए उनके चुप्पी पर भी सवाल उठता है कि कहीं ना कहीं इस कार्यवाही को लेकर उन्हें भी चुप करा दिया गया है।यह अलग बात है कि ग्रामीणों को संतुष्ट करने और स्वयं को जन हितैषी बताने के लिए विधायक ने मोबाइल से फोन लगाकर खरी खोटी बात सुनाई गई है और कहा गया कि कलेक्टर से बात हुई है ऎसे में उनका फोन किसे लगा है या नहीं लगा है यह भी संशय है क्योंकि वह अपना विश्वास पूर्व से ही ग्रामीणों के बीच खो चुके हैं ऐसे में चर्चाओं का बाजार गर्म है कि एक तरफ विधायक को मुख्य अतिथि बना कर सम्मानित करने का प्रयास किया गया लेकिन विधायक अपने ही बुने हुए जाल में फंस गए और ग्रामीणों ने उन्हें खुद खरी खोटी सुना कर बेनकाब कर दिया।
बताते चलें कि श्रम शक्ति अभियान" एकता परिषद मध्य प्रदेश" के द्वारा किए गए आह्वान के तहत कोरोना काल में ग्रामीण मजदूरों को श्रमिक इकाई के महत्व को बताने एवं जल संरक्षण और जल संवर्धन पर्यावरण संरक्षण जैसे समाजोपयोगी कार्य को वरीयता देते हुए कराए जा रहे हैं जो समाज के लिए अनुकरणीय हो जिसके तहत गत 17 से 21मार्च तक सरोज सिंह संयोजक एकता परिषद जिला सीधी के संयोजन में सैकड़ों ग्रामीणों के साथ श्रमदान शिविर के तहत उक्त तालाब का गहरीकरण एवं साफ सफाई का कार्य किया गया है।श्रमदान शिविर में सहयोगी संस्था के रूप में "प्रयोग समाज सेवी संस्था" तिल्दा, नेवरा रायपुर (छत्तीसगढ़) है जिसके द्वारा कोरोना महामारी से बचाव के लिए स्लोगन के माध्यम से एवं संयोजक के माध्यम से जागरूक करने का भी कार्य किया जा रहा है जिसमें श्रमदान के समय भी कोरोना से बचाव की तकनीक अपनाने जिसमें एक दूसरे से 1 मीटर की दूरी बनाए रखें,मुंह में कपड़ा या मास्क लगाएं, प्रतिरक्षा के लिए काढ़ा का सेवन करें एवं हाथ मुंह और नाक को बार-बार साबुन से धोते रहें। श्रमदान शिविर में क्षेत्र के कई सामाजिक संगठन एवं सामाजिक कार्यकर्ता भी पहुंचकर जहां ग्रामीणों का हौसला अफजाई कर रहे हैं वहीं ऐसे पुनीत कार्य की सराहना भी कर रहे हैं जो समाज के लिए निश्चित ही अनुकरणीय एवं उपयोगी है। इस अवसर पर मंचासीन अतिथियों में प्रवीण तिवारी अध्यक्ष भाजपा मंडल मझौली लवकेश सिंह जिला कार्यसमिति सदस्य भाजपा,उमा सिंह सामाजिक कार्यकर्ता, भागवत गुप्ता महामंत्री भाजपा मंडल मझौली,अजय सिंह छोटू,हितेश गुप्ता भाजयुमो, रावेंद्र उर्मलिया, देवेंद्र पांडेय एवं कार्यक्रम का संचालन सामाजिक कार्यकर्ता रंगदेव कुशवाहा के द्वारा किया गया।

Similar Post You May Like

  • कोरोना वैक्सीन टीकाकरण  लक्ष्य पूर्ति हेतु सभी करें प्रयास -- डॉ राकेश

    कोरोना वैक्सीन टीकाकरण लक्ष्य पूर्ति हेतु सभी करें प्रयास -- डॉ राकेश

    राजकुमार तिवारी-- मझौली-- खंड चिकित्सा अधिकारी मझौली डॉ राकेश तिवारी द्वारा कोरोना वैक्सीन के टीकाकरण के लिए दिए गए लक्ष्य को पूरा करने के लिए सभी जिम्मेदार मैदानी अधिकारी/ कर्मचारियों का आह्वान करते हुए सहयोग की अपेक्षा की है। उन्होंने बताया कि दिनाँक 13 मई 2021 को निम्नलिखित जगहों पर कोविड सत्र का आयोजन किया जाएगा सीएचसी मझौली कोवैक्सिन 2 डोज, हाई स्कूल पथरौला कोविशिल्ड, जीपी ड

  • बेसहारा लोगों की मदद में प्रयासरत है --डॉक्टर मनोज

    बेसहारा लोगों की मदद में प्रयासरत है --डॉक्टर मनोज

    राजकुमार तिवारी-- मझौली-- एक तरफ जहां पूरा देश और प्रदेश कोरोना महामारी के संकट काल से गुजर रहा है जहां कोरोना संक्रमण के बचाव एवं कोरोना वैक्सीन के महत्व को जन-जन तक पहुंचाना शासन व प्रशासन के लिए कड़ी चुनौती मानी जा रही है ऐसे समय में बहुतायत साधन संपन्न लोग अपने परिवार को सुरक्षित बनाए रखने की जद्दोजहद में मशक्कत कर रहे हैं और अपने परिवार तक ही सीमित सोच रखते हैं वहीं कई समाजस

  • कुसमी जनपद में कोरोना टेस्ट एवं टीकाकरण में हो रही लापरवाही - भूपाल

    कुसमी जनपद में कोरोना टेस्ट एवं टीकाकरण में हो रही लापरवाही - भूपाल

    राजकुमार तिवारी-- सीधी--जनपद पंचायत कुसमी के पूर्व उपाध्यक्ष भूपाल सिंह ने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि कोरोना टेस्ट एवं टीकाकरण में पश्चिमी कुसमी क्षेत्र में भारी लापरवाही हो रही है जबकि जनपद क्षेत्र कुसमी अंतर्गत सबसे ज्यादा प्रवासी श्रमिक चिंनगवाह ग्राम पंचायत में आए हैं बावजूद इसके 1 वर्ष से ऊपर कोरोना महामारी का संक्रमण काल हो गया है बावजूद इसके इस क्षेत्र में कोरोना

  • सचिव एवं सहायक सचिव  संगठन ने समस्या निदान को लेकर सौंपा ज्ञापन

    सचिव एवं सहायक सचिव संगठन ने समस्या निदान को लेकर सौंपा ज्ञापन

    राजकुमार तिवारी-- मझौली-- मध्य प्रदेश पंचायत सचिव संगठन एवं रोजगार सहायक संगठन के द्वारा लिए गए निर्णय के अनुसार 7 मई को जनपद पंचायत मझौली के पंचायत सचिव संगठन एवं रोजगार सहायक संगठन के द्वारा कलेक्टर जिला सीधी के नाम मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत मझौली के माध्यम से ज्ञापन सौंपा गया है जिसमें कहा गया है कि पंचायत ग्रामीण विकास विभाग द्वारा पंचायत सचिवों व सहायक सचिव समेत

  • कर्फ्यू का उल्लंघन कर रहे व्यापारी डेढ़ गुना ज्यादा रेट पर बिक रहा सामान

    कर्फ्यू का उल्लंघन कर रहे व्यापारी डेढ़ गुना ज्यादा रेट पर बिक रहा सामान

    राजकुमार तिवारी-- मझौली:-- एक तरफ कोरोना महामारी के संक्रमण को रोकने के लिए पूरे जिला में प्रतिबंधात्मक आदेश लागू किया गया है जिसके तहत कोई भी व्यापारी अपनी दुकान भी नहीं खोल सकता है और ना ही सामान बिक्री कर सकता है बावजूद इसके तहसील क्षेत्र मझौली अंतर्गत एक तरफ जहां कुछ व्यापारी प्रतिबंधात्मक आदेश का खुला उल्लंघन कर रहे हैं वहीं दूसरी तरफ ग्राहकों की मजबूरी का फायदा उठाते हुए

  • एसडीएम ने बस स्टैंड में शुरू कराया प्याऊ,सोसल मीडिया पर कराया गया था ध्यान आकृष्ट

    एसडीएम ने बस स्टैंड में शुरू कराया प्याऊ,सोसल मीडिया पर कराया गया था ध्यान आकृष्ट

    राजकुमार तिवारी मझौली:-- एक बार फिर से एसडीएम मझौली एवं पदेन नगर प्रशासक नगर परिषद मझौली आनंद सिंह राजावत की संवेदनशीलता उस समय चर्चा का विषय बनी जब सोसल मीडिया पर पेय जल के संबंध में ध्यान आकृष्ट कराने को गंभीरता से लेते हुए उन्होंने नगर क्षेत्र मझौली के बस स्टैंड में प्याऊ की व्यवस्था शुरू कराई गई। बताते चलें कि क्षेत्र के एक सामाजिक कार्यकर्ता के द्वारा फेसबुक में इस आशय का

  • कोरोना महामारी से बचाव व सुरक्षा हेतु विधायक ने की अपील

    कोरोना महामारी से बचाव व सुरक्षा हेतु विधायक ने की अपील

    राजकुमार तिवारी-- मझौली:--विधानसभा धौहनी 82 के विधायक कुँवर सिंह टेकाम ने अपने विधानसभा क्षेत्र के लोगों से प्रेस विज्ञप्ति जारी कर अपील की है जिसमें कहा गया है कि जिला सीधी सिंगरौली में निवासरत सभी मातएं, बहने बुजुर्ग साथी एवं छोटे बच्चों वर्तमान समय पूरा देश करोना महामारी से प्रभावित हो रहा है इस महामारी को ध्यान में रखते हुए गंभीर बीमारी से ग्रसित जैसे बीपी,शुगर, लकवा,ब्रेन हे

  • कोरोनारोधी अभियान में व्यापारी फेर रहे पानी,जारी है दुकानदारी

    कोरोनारोधी अभियान में व्यापारी फेर रहे पानी,जारी है दुकानदारी

    राजकुमार तिवारी-- मझौली:--एक तरफ जहां पूरा देश और प्रदेश कोरोना जैसे महामारी की भयावह प्रकोप से जूझ रहा है जिसके लिए कोरोना महामारी के संक्रमण से बचाव के लिए कड़े दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं और करोना कर्फ़्यू जैसे प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किए गए हैं जिसके चलते पूर्ण लाक डाउन की स्थित होनी चाहिए बावजूद इसके नगर क्षेत्र मझौली मुख्य बाजार में आलम यह है कि कई व्यापारी अपने फायदे और ल

  • खबर का हुआ असर,शवदाह के लिए डीपो में  लकड़ी कराई गई उपलब्ध

    खबर का हुआ असर,शवदाह के लिए डीपो में लकड़ी कराई गई उपलब्ध

    राजकुमार तिवारी-- मझौली :--नगर क्षेत्र मझौली अंतर्गत कई माह से वन विभाग के द्वारा डीपो से शवदाह के लिए उचित मूल्य पर लकड़ी नहीं दी जा रही थी जिसके संबंध में मृतक के परिजनों द्वारा मीडिया के समक्ष अपनी परेशानी का इजहार किया गया था जिसको लेकर " विंध्य न्यूज 18" वेव पोर्टल में 23 अप्रैल को ''शवदाह के लिए वन विभाग में लकड़ी का टोटा'' नामक शीर्षक से खबर प्रकाशित की गई थी जिसको गंभीरता से लेते

  • शवदाह के लिए वन विभाग में लकड़ी का टोटा, लकड़ी के लिए भटक रहे लोग

    शवदाह के लिए वन विभाग में लकड़ी का टोटा, लकड़ी के लिए भटक रहे लोग

    राजकुमार तिवारी-- मझौली:-- एक तरफ जहां कोरोना महामारी के चलते आम आदमी का जीवन मुश्किल और कठिनाई से भरा हुआ है वहीं दूसरी तरफ अगर ऐसी स्थिति में किसी परिवार में किसी की मृत्यु हो जाए और उसे शवदाह के लिए लकड़ी को परेशान होना पड़े तो यह बहुत ही भयावह और पीड़ादाई स्थित होती है। और ऐसे मामले में जहां परिक्षेत्र अधिकारी का कहना है कि नगर निकाय को लकड़ी उपलब्ध कराने की जिम्मेवारी है जबकि

ताज़ा खबर

Popular Lnks